स्थानीय मुद्दों को लेकर बदलाव संकल्प महासभा का आयोजन 16 जुलाई को हज़ारीबाग़ में

स्थानीय मुद्दों को लेकर बदलाव संकल्प महासभा का आयोजन 16 जुलाई को हज़ारीबाग़ में

स्थानीय मुद्दों को लेकर बदलाव संकल्प महासभा का आयोजन 16 जुलाई को हज़ारीबाग़ में

 

गंधी मैदान  हज़ारीबाग़ में महाजुटान की तैयारी जोरो से चल रही है लोगो में काफी उत्साह का माहौल है 

हाज़रीबाग़ के मटवारी स्थित गाँधी मैदान में 16 जुलाई को बदलओ संकल्प महासभा का आयोजन कीया जाएगा इस आयोजन को ले कर समिति की तैयारी काफी जोरो से चल रहा है इस महा महासभा को लेकर हज़ारीबाग़ और चतरा लोकसभा को लोगो में काफी उत्साह देखने को मिल रहा है इस महासभा को छात्र और नौजवान मिलकर अंजाम दे रहे है इस महासभा में मुख्य तोर पर जयराम महतो एवं बरही विधानसभा के पूर्व प्रतियासी संजय मेहता सहित झारखण्ड के अन्य वक्ता अपनी राय देंगे !
महासभा में छात्र चतरा , रामगढ़ ,कोडरमा,हज़ारीबाग़ जिले के लोग शामिल होंगे विशेष कर मांडू ,बरकागांव,बरही ,रामगढ़ ,कोडरमा के नौजवान और बुजुर्ग भी शामिल होंगे ! इस सभा का मुख्य मुद्दा स्थानिये एवं नियोजन निति होगा ! निजी क्षेत्र के उद्योगों में स्थानीय को 75 प्रतिशत नौकरी, बड़कागांव के गोंदलपुरा आंदोलन को समर्थन, पकरी बरवाडीह – परियोजना में अब तक कई रैयतों को मुआवजा नहीं मिल पाना, बरही में जियाडा भूमि पर स्थापित उद्योगों से हो रहे प्रदूषण, रामगढ़ के बूढाखाप में चल रहे आंदोलन, जमीनों की लूट, छात्रों को अब तक छात्रवृति नहीं मिल पाना, ओबीसी को 27 प्रतिशत आरक्षण, हजारीबाग से लंबी दूरी की ट्रेनों की माँग एनएच चौड़ीकरण में कई प्रभावित रैयतों को अब तक मुआवजा नहीं मिल पाना आदि माँगों एवं समस्याओं को लेकर वक्ता अपने अपने – विचार रखेंगे।

बरही विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी संजय मेहता ने कहा कि झारखंड 23 सालों बाद भी नीतिगत मसलों के दोराहे पर खड़ा है। यहाँ की स्थानीय नीति स्पष्ट नहीं होने के कारण नियोजन नीति का भी बिंदु फँस जा रहा है। छात्र नौजवानों में निराशा है। साथ ही निजी क्षेत्र के उद्योगों में स्थानीय को 75 प्रतिशत नौकरी की बात कही गयी है। इसके लिए विधेयक भी लाया गया। इसके बावजूद इसका पालन नहीं हो रहा। कई परियोजनाओं के नाम पर गरीब किसानों का – भूमि अधिग्रहित कर लिया गया लेकिन उन्हेभूमि अधिग्रहित कर लिया गया लेकिन उन्हें आज तक मुआवजा नहीं मिला। कंपनियों के आने से प्रदूषण चरम पर है। पेयजल की समस्या बढ़ती जा रही है। में झारखंड के सभी लोकसभा और विधानसभा सीट पर पर स्थानीय और ईमानदार लोगों की जरूरत है। जो जनता के मुद्दों के साथ खड़े रहें न कि कम्पनियों से सांठ-गाँठ कर ले। इस सभा के माध्यम से नेतृत्व कौशल को उभारने की कोशिश की जाएगी। सभा में राज्य के पाँचो प्रमंडलों से युवा नौजवा नेता भी सम्मिलित होंगे।

1 thought on “स्थानीय मुद्दों को लेकर बदलाव संकल्प महासभा का आयोजन 16 जुलाई को हज़ारीबाग़ में”

Leave a Comment